Sarkari Naukri

यह ब्लॉग खोजें

सोमवार, 17 जुलाई 2017

Indian history in hindi, History Question Answer, History gk @ ssc.nic.in

Indian history in hindi, History  Question Answer, History gk @ ssc.nic.in

मौर्य काल में तक्षशिला शिक्षा का प्रसिद्ध केंद्र था।
यूनान के शासक सेल्यूकस ने मेगास्थनीज को अपना राजदूत चंद्रगुप्त मौर्य के राज दरबार में भारत भेजा था।
चंद्रगुप्त मौर्य ने सेल्यूकस को ई. पू. 305 में पराजित किया था।
मेगस्थनीज लिखित पुस्तक का नाम इंडिका है।
इंडिका में पाटलिपुत्र के प्रशासन का वर्णन है।
विशाखदत्त के ग्रंथ रचित ‘मुद्राराक्षस’ नामक ग्रंथ में चंद्रगुप्त मौर्य के विशिष्ट रूप का वर्णन हुआ है।
अशोक के शिलालेखों की भाषा पाकृत है।
कुणाल ने ने दक्कन पर विजय प्राप्त की थी।
मेगास्थनीज द्वारा अपनी पुस्तक में समाज को पाँच भागों में बाँटा गया था।
‘अर्थशास्त्र’ का संबंध राजनीतिक नीतियों से है।

To view question and answer for History GK, please click here

मौर्य वंश भारत का प्राचीनतम राजवंश है।
मौर्य साम्राज्य की स्थापना किसने की थी।
मौर्य वंश की स्थापना ई.पू. 322 में हुई थी।
कौटिल्य/चाणक्य चंद्रगुप्त मौर्य का प्रधानमंत्री था।
चाणक्य का वास्तविक नाम विष्णु गुप्त था।
चंदगुप्त के शासन के विस्तार में सबसे अधिक सहायता चाणक्य ने की थी।
कौटिल्य का अर्थशास्त्र की तुलना मैकियावेली के ‘प्रिंस’ से की जाती है।
अशोक ने सिंहासन पर अधिकार पाने के लिए अपने बड़े भाई की हत्या की थी।
सम्राट अशोक की प्रभावित करने वाली पत्नी का नाम कारुवाकी था।
बिंदुसार ने विद्रोहियों को कुचलने के लिए अशोक को तक्षशिला भेजा था।
सम्राट अशोक ने अपने शिलालेखों में अपना नाम ‘देवान प्रियादर्शी’ दर्शाया है।
कलिंग का युद्ध ई.पू. 261 में हुआ था।
सम्राट अशोक ने कलिंग के युद्ध में नरसंहार को देखकर बौद्ध धर्म अपना लिया था।
चंद्रगुप्त मौर्य ने अपने अंतिम दिनों में जैनधर्म को अपना लिया था।
मौर्य साम्राज्य में प्रचलित मुद्रा को पण कहा जाता था।
अशोक का उत्तराधिकारी कुणाल था।

Responsive ad

Amazon