Sarkari Naukri

यह ब्लॉग खोजें

बुधवार, 21 मार्च 2018

GK Science In Hindi, General Knowledge Science

GK Science In Hindi, General Knowledge Science


1- ओपेरिन के अनुसार ऑक्सीजन पृथ्वी के आदि वायुमण्डल में उपस्थित नही थी।
2- पेट्रोल में 5 प्रतिशत एल्कोहल मिलाने की अनुमति भारत सरकार द्वारा दी गयी है।
3- स्तनधारिओं के शरीर का एक विशिष्ट लक्षण डायफ्राम की उपस्थिति है।
4- लिंग गुणसूत्र, अलिंगी गुणसूत्रों एवं माइटोकोन्ड्रिया से प्राप्त डी0एन0ए0 से प्रमाणित होता है कि मनुष्य चिम्पेंजी से अन्य होमीनॉइड कपियों की तुलना में अधिक समानता रखता है।
5- मिथाइल आइसोसायनेट, जल से क्रिया कर विषैली गैस बनाता है।
6- मानव प्रदूषित वायु में श्वसन करने पर कार्बनमोनोआक्साइड की अत्यधिक मात्रा श्वास के साथ चली जाती है जिससे रूधिर में कार्बोक्सी हीमोग्लोबीन की मात्रा बढ जाती है।
7- चावल की खेती में हरी घास की खाद की भाँति इस्तेमाल होने वाली जलीय फर्न अजोला है।
8- अब तक खोजे गये जीवाश्मों के अनुसार मावन की उत्पत्ति और विकास का प्रारम्भ अफ्रीका से हुआ है।
9- आमतौर पर बातचीत की दौरान ध्वनि की तीव्रता 40 से 60 डेसिबल होती है।
10- जीवधारियों की विविधता का कारण उत्परिवर्तन है।
11- सी0 वी0 फ्रीश ने मधुमक्खियों की भाषा खोजी थी।
12- वनस्पति जगत में सबसे बडा बीजाण्डा, सबसे बड़े नर व मादा युग्मक व सबसे बडा वृक्ष अनावृत बीजीयों में पाया जाता है।
13- मेंढक वयस्क होने पर ही फेफड़ों द्वारा सांस लेते है जबकि सरीसृप जन्म से ही फेंफडों द्वारा सांस लेते है।
14- लाइसोसोम प्रोटीन संश्लेषण के स्थल है एवं इन्हे आत्मघाती थैली के नाम से जाना जाता है।
15- जब दो जीव एक साथ रहते हैं किन्तु इस प्रक्रिया में केवल एक जीव को लाभ होता है तो इस स्थिति को परजीविता कहते हैं।
16- लैमार्क ने उपार्जित लक्षणों की वंशागति का सिद्धान्त प्रतिपादित किया था ।
17- पत्तियों की निचली सतह स्थित रन्ध्रों द्वारा पौधो में सम्पन्न होने वाली क्रिया वाष्पोत्सर्जन कहलाती है।
18- लोहा एन्जाइम्स को सक्रिय करता है, मैग्निशियम वसा का संष्लेशण करती है, क्लोरीन प्रकाश संश्लेशण में इलेक्ट्रानों का स्थानान्तरण करती है, नाइट्रोजन प्रोटीन का संश्लेषण करती है।
19- लम्बे समय तक कठोर शारीरिक कार्य के पश्चात् मांसपेसियों में थकान अनुभव होने का कारण ग्लूकोज का अवक्षय होना है।
20- इफेड्रिन एक औषधि है जिसका उपयोग अस्थमा रोग में होता है इसे जिम्नोस्पर्म से निकाला जाता है।
21- पालन-पोषण द्वारा मानव जाति की उन्नति का अध्ययन यूथेनिक्स कहलाता है।
22- यदि संसार के सभी जीवाणु तथा कवक नष्ट हो जाएँ , तो संसार लाशों तथा सभी प्रकार के सजीवों के उत्सर्जी पदार्थों से भर जाएगा।
23- माइकोप्लाज्मा सबसे सूक्ष्म स्वतन्त्र रूप से रहने वाला जीव है।
24- हम सेलुलोज को नही पचा सकते है लेकिन गाय पचा सकती है क्योंकि गायों की आहारनली में ऐसे जीवाणु होते है जो सेलुलोज को पचा सकते है।
25- वृक्कों में मूत्र के निर्माण में केशिका-गुच्छीय फिल्टरन, पुनः अवशोषण तथा नलिका स्रावण क्रिया का 26- व्हेल केवल बच्चे देते है। अर्थात ह्वेल मछली अंडे नहीं देती है , बल्कि वह बच्चे पैदा करती है और उन्हें स्तनपान कराती है |
27- प्रकाश तथा अन्धकार दोनों में केवल हरिमहीन कोशिकाओं में श्वसन होता है।
28- भूमि में मैग्नीशियम तथा लोहे की कमी पौधे में हरिमहीनता का कारण है।
29- गर्भ में बच्चे का लिंग निर्धारण पिता के गुणसूत्रों के द्वारा किया जाता है।
30- प्रत्येक गुण सूत्र में कई जीन्स होते है।
31- सिनैप्सिस, तन्त्रिका एवं दूसरी तन्त्रिका के बीच होता है।
32- वष्पोत्सर्जन में पत्तियों से पानी वाष्प के रूप में निकलता है।
33- पर्णहरित का पौधे में सूर्य के प्रकाश को अवशोशित करके शर्करा का भण्डार करने में प्रयोग किया जाता है।
34- मेथेन, हाइड्रोजन, जल तथा अमोनिया ने अमीनो अम्ल का निर्माण किया था, यह स्टैन्ले मिलर ने सिद्ध किया ।
35- कृत्रिम निशेचन के लिए सांड के वीर्य को द्रव नाइट्रोजन में संचित करते है।
36- श्वसन गुणांक आर0क्यू0 का तात्पर्य उत्पादित कार्बन डाइ-ऑक्साइड तथा प्रयोग में आई ऑक्सीजन का अनुपात है।
37- वृक्क प्रत्यारोपण में भाई या अत्यधिक निकट सम्बन्धी का वृक्क ही लिया जाता है, क्योकि दोनों के वृक्को का अनुवांशिक संगठन एक जैसा होता है।
38- जीवाश्म जैव विकास की विभिन्न अवस्थाओं का रहस्योद्घाटन करते है।
39- विकास सिद्धान्त के अनुसार मनुष्य व कपि एक ही पूर्वज से विकसित हुआ।
40- औद्योगिक प्रक्रमों में जीवधारियों अथवा उसने प्राप्त पदार्थो का उपयोग जैव प्रौद्योगिकी की श्रेणी में आता है।
41- मनुष्य में मेरू तन्त्रिकाओं की संख्या 31 युग्म है।
42-जब गुणसूत्रों के बिना विभाजन के कोशिका में विभाजन होता है तो उसे असूत्री विभाजन कहते हैं।
43- बी0एम0आर0 का अभिप्राय ‘बेसिक मेटाबोलिक रेट’ है।
44- अर्धसूत्री विभाजन तरूण पुष्प कलिकाओं में पाया जाता है।
45- भारत में जीन इन्जीनियरी द्वारा तम्बाकू की कीटरोधी किस्में तैयार की गयी है।
46- जैव तकनीक द्वारा निर्मित इंन्सुलिन सबसे पहले बाजार में 1982 में पहुँची ।
47- गुणसूत्र की संरचना में डी0एन0ए0 व प्रोटीन भाग लेते है।
48- कोशिका झिल्ली प्रोटीन एवं लिपिड की बनी होती है।
49- मनुष्य तथा स्तनियों में यूरिया का निर्माण यकृत में होता है।
50- अधिक नमक वाले अचार में जीवाणु मर जाते है क्योंकि ये जीव द्रव्यकुंचित हो जाते है।

Responsive ad

Amazon