Sarkari Naukri

यह ब्लॉग खोजें

सोमवार, 6 मार्च 2017

Rajasthan GK Questions and answer, GK Questions Answers, GK Questions For All Examination @ police.rajasthan.gov.in,samanya gyan,gk quiz,all gk,gk in hindi

Rajasthan GK Questions and answer, GK Questions Answers, GK Questions For All Examination @ police.rajasthan.gov.in,samanya gyan,gk quiz,all gk,gk in hindi1. राजस्थान राजस्व मंडल का अध्य्क्ष किसे नियुक्त किया गया है ?(a) संजय अग्रवाल(b) नीलिमा जोहरी(c) निहाल चंद गोयल(d) अशोक शेखर2. जयपुर मेट्रो रेल कारपोरेशन लिमिटेड का अध्य्क्ष एवम प्रबंध निदेशक किसे बनाया गया है ?(a) अश्वनी भगत(b) निहाल चंद गोयल(c) मेघराज लोहिया(d) जसवीर सिंह3. राज्य बल अधिकार संरक्षण आयोग का अध्य्क्ष किसे बनाया गया है ?(a) लादूराम विश्नोई(b) प्रेमसिंह बाजोर(c) मनन चतुर्वेदी(d) हरीश रावत4. निम्न संसदीय सचिव को सुमेलित कीजिये –(a) सुरेश रावत——————————- (1) गुढामलानी (बाड़मेर)(b) भैराराम चौधरी —————————-(2) खाजूवाला (बीकानेर)(c) डॉ विश्वनाथ मेघवाल———————(3) ओसिया (जोधपुर)(d) लादूराम विश्नोई……………………..(4) पुष्कर (अजमेर )   अ   ब  स  (a) 4    3  2   1(b) 3   4  1    2(c) 2   1   4   3(d) 1   2   3   45. भारतीय जनता पार्टी का प्रदेशाध्य्क्ष कौन है –(a) घनश्याम तिवारी(b) अशोक परनामी(c) दिनेश चतुर्वेदी (d) अमित शाह

6. 14 मई 2016 को राजस्थान हाई कोर्ट के मुख्य न्ययाधीश के पद पर शपथ ग्रहण की है ?

(a) अजय रस्तोगी(b) नवीन सिन्हा(c) सुनील अम्बवानी (d) सतीश7. राज्य के किस सांसद को भाजपा ने राज्यसभा मुख्य सचेतक नियुक्त किया है ?(a) रामनारायण डूडी(b) अविनाश राय(c) गोपाल कृष्ण(d) मोहनलाल गुप्ताराज्य में जन लेखा समिति का अध्य्क्ष किसे चुना गया है ?(a) कैलाश मेघवाल (b) ज्ञानदेव आहूजा (c) प्रधुमन सिंह (d) राजेंद्र सिंह9. 11 मार्च 2016 को राज्य मानवाधिकार आयोग का अध्य्क्ष का पद ग्रहण किया है ?(a) वीसरवन(b) मनोज कुमार(c) भगीरथ चौधरी(d) प्रकाश टांटिया10. बीकानेर की महिला अफसर जो बी एस ऍफ़ में पहली महिला सहायक कमांडेंट बनी है ?(a) मोहन सिंह(b) अवनि सिंह(c) तनु श्री पारीक(d) सुरभि



बंगाल की खाड़ी में गिरने वाले नदिया

कोठारी नदी
उदगम – दिवेर की पहाड़िया (राजसमन्द)
विलीन – नंदराय (भीलवाड़ा ) के निकट बनास में
मांडलगढ़ के निकट इस नदी पर “मेजा बांध ” बना है
मेजा बांध से भीलवाड़ा शहर को पेयजल की आपूर्ति की जाती
बहाव – राजसमन्द, भीलवाड़ा

खारी नदी
उदगम – बिजराल गॉव (देवगढ़, राजसमंद )
विलीन – देवली (टोंक) के निकट बनास में
बहाव क्षेत्र – राजसमन्द, भीलवाड़ा, अजमेर, टोंक
सहायक नदी – मानसी

मोरेल नदी
उदगम – चैनपुर की पहाड़िया (जयपुर)
विलीन – सवाई माधोपुर के निकट बनास में
सहायक नदी – ढूँढ
मोरेल बांध
मोरेल नदी पर
पीलूखेड़ा (सवाई माधोपुर)

बेडच नदी
उदगम – गोगुन्दा (उदयपुर)
विलीन – बिंगोद (भीलवाड़ा) के निकट बनास में
गोगुन्दा से उदयसागर झील तक ” आयड नदी “
उदयसागर झील से आगे इसका नाम ” बेडच “
नोट – उदयपुर शहर के पश्चिमोत्तर में 6 किलोमीटर दुरी पर स्थित चिकलवास गॉव के समीप आहड़ नदी पर एक बांध बनाकर वर्षा ऋतू
में प्रवाहित अतिरिक्त जल को फतहसागर पहुचने के लिए “चिकलवास नहर ” का निर्माण किया ।
इस नहर निर्माण से फतहसागर में आहड़ नदी का पानी 118 वर्ष पहले पहुंचा दिया गया ।
चितोड़गढ़ का दुर्ग गम्भीरी व बेडच नदी के संगम पर बना है
चितोड़ में अप्पावास के निकट बेडच नदी पर घोसुंडा बांध बना हुआ है

मेनाल नदी
उदगम – मांडलगढ़ (भीलवाड़ा) के निकट
विलीन – बिंगोद (भीलवाड़ा) के निकट बनास में
भीलवाड़ा में मेनाल नदी पर मेनाल जलप्रपात बना हुआ है

गम्भीरी नदी
उदगम – जावद की पहाड़िया (मध्यप्रदेश)
विलीन – चितोड़ में बेडच में

बामनी नदी
उदगम – हरिपुरा गॉव( चितोड़ )
विलीन – भेसरोड़गढ़ (चितोड़ )
भेसरोड़गढ़ अभ्यारण्य में से बहती है

मेज नदी
उदगम – भीलवाड़ा से
विलीन – लाखेरी (बूंदी ) के निकट चम्बल में

बाणगंगा नदी

उदगम – बैराठ की पहाड़िया (जयपुर)
विलीन – फतेहाबाद (उतर प्रदेश ) के निकट यमुना में
जमवारामगढ़ बांध
बाणगंगा नदी पर
जयपुर को पेयजल आपूर्ति
नोट – कक्षा 8 सामाजिक अध्ययन के अनुसार बाणगंगा नदी भरतपुर में केवलादेव घना पक्षी विहार में विलीन हो जाती है वंहा नम भूमि

का निर्माण करती है

अन्तः प्रवाह की नदिया

घग्घर नदी
उपनाम – सरस्वती, दवशदती, मृत नदी
उदगम – हिमाचल प्रदेश में शिमला के निकट कालका माता पहाड़िया
विलीन – भटनेर के धोरो में (हनुमानगढ़)
राजस्थान में अचानक बाढ़ आने के लिए प्रसिद्ध है
नदी के पेटे को “नाली ” कहते है
कालीबंगा सभ्यता इसी नदी के किनारे है
हनुमानगढ़ में तलवाड़ा झील का निर्माण करती है
राज्य में प्रवेश – तलवाड़ा (हनुमानगढ़)
वर्षा ऋतू में पानी अधिक आने पर यह नदी आगे
पाकिस्तान में फोर्ट अबास तक चली जाती है
पाकिस्तान में इसे “हकरा” कहते है
आतंरिक प्रवाह की सबसे लंबी नदी है

कांतली नदी
उदगम – खंडेला की पहाड़िया
विलीन – चूरू की सीमा से पहले
बहाव – सीकर , झुंझुनू
पूर्णत बहाव के आधार पर आंतरिक प्रवाह की सबसे बड़ी नदी है
गणेश्वर सभ्यता (नीमकाथाना ) कांतली नदी के किनारे स्थित है

साबी नदी
उदगम – सेवर की पहाड़िया (जयपुर)
विलीन – पटौदी के धोरो में
जोधपुर सभ्यता (जयपुर) साबी नदी के किनारे स्थित है


काकनेय नदी
उपनाम – मसूरदी
उदगम – कोटड़ी गॉव (जैसलमेर )
विलीन – मीठा की खाड़ी

सांभर झील अन्तः प्रवाह
सांभर झील में मेंढा, रूपनगढ़, खारी, खंडेला, तुरतमति नदिया आकर गिरती है
सांभर झील में सर्वाधिक लवण की मात्रा कोनसी नदी लती है – मेंढा नदी
मेंढा नदी हर्ष पर्वत (सीकर ) से निकलती है
छोटे नाले जो सांभर झील में गिरते है – त्योंद का नाला , झपोक का नाला , नालियासर नाला , बंदी का नाला , देवयानी का नाला



1. चम्बल नदी
उपनाम – कामधेनु, चर्मण्वती
उदगम – जानापाओ की पहाड़िया (मध्य प्रदेश )
विलीन – इटावा (उतर प्रदेश ) के निकट यमुना में
बहाव क्षेत्र के राज्य – मध्य प्रदेश, राजस्थान, उतर प्रदेश
राज्य में बहाव क्षेत्र – चितोड़, बूंदी, कोटा, सवाई माधोपुर, करोली, धौलपुर
चम्बल नदी के बीहड़ प्रसिद्ध है
चम्बल के बीहड़ो में भरतपुर ज़िले में डीग के निकट मंडेरा के बीहड़ प्रसिद्ध है
राज्य में प्रवेश – चोरासीगढ़ (चितोड़)
वर्तमान में चम्बल नदी क्षेत्र में कन्दरा सुधर कार्यक्रम चल रहा है

चूलिया जलप्रपात
चम्बल नदी पर
रावतभाटा (चितोड़ ) में
राज्य का सबसे ऊँचा जलप्रपात (18 मीटर)
चम्बल पर बांध

1. गांधीसागर बांध
भानपुरा (मध्य प्रदेश ) में
चम्बल नदी पर
चम्बल पर बना सबसे बड़ा बांध

2. राणा प्रताप सागर
चम्बल नदी पर
रावतभाटा (चितोड़) में
राज्य का जलभराव की दृश्टि से सबसे बड़ा बांध है

3. जवाहर सागर बांध
चम्बल नदी पर
कोटा-बूंदी की सीमा पर

4. कोटा बेराज
चम्बल नदी पर
कोटा में स्थित
केवल सिंचाई के लिए

सहायक नदिया – कुनु, बनास, मेज, ईज,सीप, बामनी, परवन, कालीसिंध, पार्वती,कुराल

2. कुनु नदी
उदगम – गुना (मध्य प्रदेश)
प्रवेश – मूसेरी ( बारां)
बारां ज़िले से फिर मध्य प्रदेश में जाती है
विलीन – करोली की सीमा पर चम्बल में

3. पार्वती नदी

उदगम – सिहोर (मध्य प्रदेश )
प्रवेश – करयाहट के निकट छतरपुर (बारां)
बहाव क्षेत्र – बारां, कोटा, सवाई-माधोपुर
विलीन – पालिया गॉव (सवाई माधोपुर ) के निकट चम्बल में
सहायक नदिया – ल्हासी, बरनी, अँधेरी, रेतडी, विलास

4. कालीसिंध
उदगम – बागली गॉव (देवास, मध्य प्रदेश)
प्रवेश – बिन्दा( रायपुर, झालावाड़ )
बहाव क्षेत्र – झालावाड़, कोटा, बारां
विलीन – नोनेरा (कोटा)
सहायक नदिया – आहु, परवन, आमझरा, उजाड़, निवाज

5. कुराल नदी
उदगम – उपरमाल के पठार से
विलीन – बूंदी के पूर्व में चम्बल में

6. आहू नदी
उदगम – सुसनेर (मध्य प्रदेश )
प्रवेश – नंदपुर(झालावाड़)
बहाव क्षेत्र – झालावाड़, कोटा
विलीन – गागरोन(झालावाड़ )

7. बनास नदी
उपनाम – वन की आशा
उदगम – खमनोर की पहाड़िया (राजसमन्द)
बहाव क्षेत्र – राजसमन्द, चितोड़, भीलवाड़ा, अजमेर, टोंक, सवाई माधोपुर
विलीन – रामेश्वरम घाट (सवाई माधोपुर ) के निकट चम्बल में
लंबाई – 512 किलोमीटर
सहायक नदिया – धुंध, गम्भीरी, बेडच, खारी, मेनाल, मोरेल, बांडी, मासी

बनास नदी पर त्रिवेणी संगम

1. बनास, बेडच, मेनाल = बिगोंद (भीलवाड़ा )
2. बनास, डाई, खारी = राजमहल (टोंक )
3. सीप, बनास, चम्बल = रामेश्वरम घाट (सवाई माधोपुर )
इसका कुल अपवाह क्षेत्र 33760 वर्ग किलोमीटर
राज्य के कुल अपवाह क्षेत्र का 9.80 प्रतिशत है
राजस्थान की भूमि में बहाने वाली राज्य की सबसे लंबी नदी है
टोंक ज़िले के टोडारायसिंहनगर में बनास नदी पर बीसलपुर बांध बना हुआ है जो राज्य की सबसे बड़ी पेयजल परियोजना है

Responsive ad

Amazon