गुरुवार, 25 अगस्त 2016

Madhya Pradesh general knowledge





मध्यप्रदेश राज्य का गठन 1 नवंबर 1956 को हुआ था तथा वर्तमान स्वरूप 1 नवंबर 2000 को छत्तीसगढ़ के अलग राज्य बनने के बाद से है ।
- मध्यप्रदेश का क्षेत्रफल लगभग 308252 वर्ग किलोमीटर है जो भारत के कुल क्षेत्रफल का 9.38% है।
- क्षेत्रफल की दृष्टि से मध्यप्रदेश भारत का दूसरा बड़ा राज्य है पहला स्थान राजस्थान एवं तीसरे पर महाराष्ट्र है।
- राज्य की उत्तर से दक्षिण की लंबाई 605 किमी तथा पूर्व से पश्चिम की लंबाई 870 किमी है।
- मध्यप्रदेश की सीमा पांच राज्यों को स्पर्श करती है - उत्तर प्रदेश ( सबसे अधिक ) राजस्थान, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़ गुजरात ( सबसे कम )।
- मध्यप्रदेश के गठन के समय 1 नवंबर 1956 को राज्य में 43 जिले थे वर्तमान में जिलों की संख्या 51 है।
- मध्यप्रदेश की कुल जनसंख्या जनगणना 2011 के अनुसार 7,25,97,565 है जिसमें पुरुष - 3,67,11,370 एवं महिला - 3,49,84,645 है।
- भारत की जनसंख्या में मध्यप्रदेश का प्रतिशत 6% है तथा इसका भारत में 6 स्थान है।
- - - - - - -- - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - 



मध्यप्रदेश में प्रथम मुख्यमंत्रीपंडित रविशंकर शुक्ल
प्रथम महिला मुख्यमंत्रीसुश्री उमा भारती
प्रथम राज्यपालडॅा पट्टाभिसीतारमैया
प्रथम महिला राज्यपालसुश्री सरला ग्रेवाल
प्रथम न्यायाधीशमोहम्मद हिदायतुल्ला
प्रथम महिला न्यायाधीशश्रीमती सरोजिनी सक्सेना
प्रथम विधानसभा अध्यक्षकुंजीलाल दुबे
प्रथम विधानसभा उपाध्यक्षविष्णु विनायक सरवटे
प्रथम विपक्ष के नेताविष्णुनाथ तामस्कर
प्रथम गैर कांग्रेसी मुख्यमंत्रीवीरेंद्र कुमार सकलेचा
प्रथम मुख्य सचिवएच. एस. कामथ
प्रथम महिला मुख्य सचिवनिर्मला बुच
म.प्र.की प्रथम पर्यटन नगरीशिवपुरी
मध्यप्रदेश में सर्वाधिक वर्षा वालापचमढ़ी
सबसे कम वर्षा वाला स्थानभिंड
म.प्र. का सबसे ठंडा स्थानशिवपुरी
प्रदेश का सबसे गर्म स्थानगंजबासौदा
राज्य में सबसे बड़ा राष्ट्रीय उद्यानकान्हा किसली( मंडला )
म.प्र. का सबसे लंबा राष्ट्रीय राजमार्गएन एच 7
म.प्र. का सबसे छोटा राष्ट्रीय राजमार्गएन एच 76
म.प्र. का सबसे बड़ा कोयला भंडार क्षेत्रसोहागपुर
प्रदेश की सबसे मोटी कोयला परतसिंगरौली
म.प्र. का सबसे बड़ा रेलवे जंगशनइटारसी
मप्र का सर्वाधिक गेहूं उत्पादक क्षेत्रमालवा
म.प्र. का क्षेत्रफल में सबसे बड़ा जिलाछिंदवाड़ा
म.प्र. का पहला शिल्प ग्रामछतरपुर
म.प्र. में शासकीय दंत चिकित्सा महाविद्यालयइंदौर
प्रदेश का यूनानी चिकित्सा महाविद्यालयबुरहानपुर
प्रदेश की एकमात्र बैंक नोट प्रेसदेवास
म.प्र. का प्रथम खेल विद्यालयसीहोर में
मप्र में घड़ी बनाने का एकमात्र कारखानाबैतूल
प्रदेश की एकमात्र महिला जेलहोशंगाबाद
म.प्र. का पहला समाचार पत्रग्वालियर गजट
मप्र में एकमात्र उद्यानिकी महाविद्यालयमंदसौर
प्रथम चिकित्सा महाविद्यालयग्वालियर
एकमात्र सैनिक स्कूलरीवा में
मध्यप्रदेश में देश का पहला रत्न परिष्कृत केंद्र जबलपुर में स्थापित है।
एशिया का सबसे बड़ा सोयाबीन संयंत्र उज्जैन मे है
विकलांग पुनर्वास केंद्र जबलपुर में स्थापित किया गया है।
मध्यप्रदेश मानव अधिकार आयोग गठन करने वाल देश का पहला राज्य है।
मप्र मानव विकास रिपोर्ट तैयार करने वाला देश का पहला राज्य हैं।
देश का पहला आपदा प्रबंधन संस्थान भोपाल में है।
भारत का एकमात्र मानव संग्रहालय भोपाल में है।
मध्यप्रदेश वनों का पूर्ण राष्ट्रीयकरण करने वाला पहला राज्य हैं।
एशिया का पहला शारीरिक प्रशिक्षण महाविद्यालय ग्वालियर में स्थापित किया गया है।
भारत का प्रथम आप्टिकल फाइबर कारखाना मंडीद्वीप मे स्थापित किया गया है।
भारत का पहला रामायण कला संग्रहालय मध्यप्रदेश के ओरछा में स्थापित है।
भोपाल एक्सप्रेस देश की पहली ट्रेन है जिसे आई एस ओ 9001 प्रमाण पत्र दिया गया है।
मध्यप्रदेश के एकमात्र ऋतु वैधशाला इंदौर में है।
मध्यप्रदेश की ऊर्जा राजधानी सिंगरौली को कहा जाता है।
मध्यप्रदेश की पर्यटन और ग्रीष्मकालीन राजधानी पचमढ़ी को कहा जाता है।
मध्यप्रदेश की संस्कृति राजधानी जबलपुर को कहा जाता है।
मध्यप्रदेश की मैग्नीज राजधानी बालाघाट को कहा जाता है।
मध्यप्रदेश के सिंगरौली ( बैढ़न ) में विंध्यांचल ताप विद्युत केंद्र स्थापित है।
चांदनी ताप विद्युत केंद्र नेपानगर ( बुराहानपुर ) मे स्थापित है ।
प्रदेश का पहला जल विद्युत केंद्र गांधी सागर जल विद्युत केंद्र ( मंदसौर ) चम्बल नदी पर स्थित हैं।
मध्यप्रदेश
मध्यप्रदेश के सांची स्थित बौद्ध स्तूप का निर्माण सम्राट अशोक ने पक्की ईंटों से कराया था।
विश्व प्रसिद्ध होल्योडोरस का गरूड स्तंभ विदिशा में स्थित है।
मध्यप्रदेश का विदिशा जिला भारत का सेंटर पांइट कहलाता है।
मध्यप्रदेश स्थित ग्वालियर के किले को जिब्राल्टर आफ इंडिया कहा जाता है।
रानी लक्ष्मीबाई की समाधि, तानसेन का मकबरा एवं मोहम्मद गौस का मकबरा ग्वालियर में स्थित हैं।
मध्यप्रदेश के खंडवा जिले में गांजा का उत्पादन होता है एवं मंदसौर में अफीम का उत्पादन किया गया है।
भोपाल गैस दुर्घटना ( 3 दिसंबर 1984 ) में मिथाइल आइसो साइनेट नामक गैस का रिसाव हुआ था।





















सरकारी नौकरियों के बारे में ताजा जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपरोक्त पोस्ट से सम्बंधित सामान्य ज्ञान की जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपचार सम्बंधित घरेलु नुस्खे जानने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

देश दुनिया, समाज, रहन - सहन से सम्बंधित रोचक जानकारियाँ  देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 


Responsive ad

Amazon