बुधवार, 20 अप्रैल 2016

Indian Geography GK









पश्चिमी घाट पर्वतीय क्षेत्र भारत के पश्चिमी तट के सहारे लगभग 1600 किमी. की लंबाई में महाराष्ट्र व गुजरात की सीमा से लेकर कुमारी अंतरीप तक विस्तृत है| यह दो भागों में बांटी जाती है-उत्तरी सहयाद्रि व दक्षिणी सहयाद्रि| इसे महाराष्ट्र व कर्नाटक में ‘सहयाद्रि’’ और केरल में ‘सहय पर्वतम’ कहा जाता है|





पश्चिमी घाट

पश्चिमी घाट पर्वत श्रेणी को यूनेस्को ने अपनी 'विश्व विरासत स्थल' सूची में शामिल किया है और यह विश्व के ‘जैवविविधता हॉटस्पॉट्स’ में से एक है| पश्चिमी घाट में उभयचरों, पक्षियों, स्‍तनपायियों व फूलों की अनेक प्रजातियाँ पाई जाती हैं| यहाँ की जैवविविधता के संरक्षण के लिए ‘पश्चिमी घाट पारिस्थितिकी विशेषज्ञ समूह’ गठित किया था| यह पर्वत श्रंखला हिमालय पर्वत से भी प्राचीन है और भारत में मानसून की वर्षा को प्रभावित करती है| इसकी सबसे ऊंची चोटी अनाइमुडी है और पश्चिमी घाट की औसत ऊंचाई लगभग 900 मी. है| पश्चिमी घाट महाराष्ट्र व गुजरात की सीमा से लेकर गोवा, कर्नाटक और केरल व तमिलनाडु की सीमा तक लगभग 16000 वर्ग किमी. में फैला हुआ है|

पश्चिमी घाट में स्थित पर्यटन केंद्र

महाबलेश्वर, पंचगनी, माथेरान,अंबेली घाट, कुद्रेमुख, कोडागु और लोनावाला-खंडाला जैसे पर्वतीय पर्यटन केंद्र इसी श्रेणी में स्थित हैं| शरावती नदी पर स्थित गरसोप्पा या जोग प्रपात भी पश्चिमी घाट में स्थित है, जोकि भारत के सर्वाधिक ऊँचे जलप्रपातों में से एक है|





जोग जलप्रपात

प्रसिद्ध पर्वतीय पर्यटन केंद्र कोडाइकनाल (तमिलनाडु) पालनी पहाड़ियों पर स्थित है औरऊटी या उडगमंडलम/उतकमुंड (तमिलनाडु) नीलगिरी की पहाड़ियों पर स्थित है| केरल का'साइलेंट वैली राष्ट्रीय पार्क’ पश्चिमी घाट का ही हिस्‍सा है।

पश्चिमी घाट के महत्वपूर्ण दर्रे
थालघाट: यह नासिक व मुंबई को जोड़ता है|
भोरघाट: यह पुणे व मुंबई को जोड़ता है|
पालघाट: यह केरल व तमिलनाडू को जोड़ता है (कोच्चि को चेन्नई से जोड़ता है)|
सेनकोट्टा: यह नागरकोइल और कार्डमम पहाड़ियों के मध्य स्थित है और तिरुवनन्तपुरम को मदुरै से जोड़ता है|






















सरकारी नौकरियों के बारे में ताजा जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपरोक्त पोस्ट से सम्बंधित सामान्य ज्ञान की जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

उपचार सम्बंधित घरेलु नुस्खे जानने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

देश दुनिया, समाज, रहन - सहन से सम्बंधित रोचक जानकारियाँ  देखने के लिए यहाँ क्लिक करें । 


Responsive ad

Amazon