शुक्रवार, 20 जून 2014

डामोर, कथौडी, कालबेलिया जनजातियाँ

  1. डामोर : -
      बाँसवाड़ा और डूंगरपुर जिले की सीमलवाडा पंचायत समिति में निवास करती है.
      मुखी  डामोर जनजाति की पंचायत का मुखिया
      ये लोग अंधविश्वासी होते है.
      ये लोग मांस और शराब के काफी शौक़ीन होते है.
   2. कथौडी 
        यह जनजाति बारां जिले और दक्षिणी-पश्चिम राजस्थान में निवास करते है.
        मुख्य व्यवसाय  खेर के वृक्षों से कत्था तैयार करना.
   3. कालबेलिया
        मुख्य व्यवसाय  साँप पकडना है.
        इस जनजाति के लोग सफेरे होते है.
        ये साँप का खेल दिखाकर अपना पेट भरते है.
      राजस्थान का कालबेलिया नृत्य यूनेस्को की विरासत सूची में (पारंपरिक छाऊ नृत्य )




रोचक जानकारी देखने के लिए यहाँ क्लिक करें 

Responsive ad

Amazon